सीबीआई की छह सदस्यीय टीम खोलेगी महन्त नरेन्द्र गिरि की मौत के राज

Politics
Share with your friends

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महन्त नरेन्द्र गिरि की संदिग्ध मौत की तह तक जाने के लिए सीबीआई ने मामला अपने हाथ मेें ले लिया है। सीबीआई ने छह सदस्यीय टीम का गठन किया गया है, जो सभी तथ्यों का पता लगाकर साफ करेगी​ कि महन्त ने आत्महत्या की थी या फिर इसके पीछे कोई गहरी साजिश थी।

महन्त नरेन्द्र गिरि की मौत के बाद से ही इस हाईप्रोफाइल मामले की सीबीआई जांच की मांग उठ रही थी। प्रदेश सरकार की ओर से एसआईटी गठित कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी गई थी। लेकिन, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले की नजाकत और मांग को देखते हुए इसकी सीबीआई जांच की​ सिफारिश की। इसके बाद सीबीआई इसे स्वीकार करते हुए टीम गठित कर दी है।

टीम प्रयागराज आने के बाद इस मामले की एफआइआर दर्ज करने के बाद जांच प्रारंभ कर देगी। बताया जा रहा है कि सीबीआई ने उत्तर प्रदेश पुलिस से अब तक की हुई जांच समेत सभी दस्तावेज मांगे हैं। इस जांच को लेकर लेकर सीबीआई निदेशक के नेतृत्व में जांच टीम की एक बैठक भी हुई है। उधर प्रदेश सरकार की ओर से गठित 18 सदस्यीय एसआईटी अपने स्तर से मामले की जांच पड़ताल में जुटी हुई है।

महन्त नरेन्द्र गिरि का शव बीते सोमवार को श्री मठ बाघम्बरी गद्दी के एक कमरे में संदिग्ध परिस्थित में मिला था। मौके से कथित सुसाइड नोट भी मिला था, जिसमें आत्महत्या की बात लिखी थी। वहीं आत्महत्या के कुछ देर बाद का वीडियो सामने आने के बाद मामला और उलझ गया है। इस वीडियो में कमरे का पंखा चलता हुआ मिला, जबकि नरेन्द्र गिरि के इसी के जरिए फांसी लगाकर खुदकुशी की बात कही जा रही है।


Share with your friends

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *