कोरोना को अब लगाई संस्थान ने फटकार

Regional
Share with your friends

कोरोना जैसी महामारी में लोगों को कई मुसीबतो का सामना करना पड़ रहा है। कारोना जैसी महामारी रूकने का नाम नही ले रही है, हालांकि वैक्सीन लगने के बाद भी कई लोगों मे संक्रमण पाया गया है। आज के आकड़ो की बात करे तो हाल इस कदर है कि मरीजों की संख्या 25 लाख तक पहुंच गई है। ऐसी स्थिति में केंद्र सरकार और हर राज्यों की सरकार कड़क हो चुकि है। साथ ही कुछ ऐसी संस्था भी सामने आई है जो कि इस महामारी से झूझने के लिए मदद का हाथ बढ़ा रही है।

ऐसी ही एक संस्थान जो कि कई तरह के सोसल वर्क करती आ रही है। यह संस्था प्रयागराज मे स्थित है । संस्था का नाम नंदी सेवा संस्थान है। इस संस्थान ने कोरोना जैसी महामारी से निपटने के लिए मदद का हाथ बढ़ाया है। मेडिकल काॅलेज में अपने खर्चे से आॅक्सीजन प्लांट के स्थापना की पेशकश की है।

प्रयागराज में पिछले कई वर्षों से सामाजिक कार्यों में सक्रिय समाजसेवी संस्था नन्दी सेवा संस्थान ने अपने व्यय पर स्वरुपरानी मेडिकल कॉलेज में मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना के लिए प्रयागराज के जिलाधिकारी को पत्र लिखा है! संस्थान की ओर से यह पत्र सलाहकार समिति के सदस्य सौरभ पाण्डेय ने लिखा है! नन्दी सेवा संस्थान के प्रवक्ता लल्लू लाल गुप्ता ने मीडिया को बताया कि कोरोना संक्रमण की वर्तमान कठिन परिस्थतियों का सामना हम सभी को मिलकर करना होगा! एक सामाजिक संस्था होने के नाते हमने एक आपात वर्चुअल बैठक आहूत की! जिसमें यह चर्चा हुई कि स्वरुपरानी मेडिकल कॉलेज में कोरोना मरीजों की संख्या में वृद्धि के कारण मेडिकल ऑक्सीजन की खपत और मांग बढ़ी है।

इसपर विमर्श के उपरांत संगठन के सभी सदस्यों ने यह निर्णय लिया कि नन्दी सेवा संस्थान जिला प्रशासन और मेडिकल कॉलेज प्रशासन से आवश्यक अनुमति प्राप्त करके अपने व्यय से एक ऑक्सीजन प्लांट का निर्माण कराएगा । यह प्लान्ट निर्माण आरम्भ होने के 25 दिनों के उपरांत मरीजों के सेवार्थ मेडिकल कॉलेज प्रशासन को सौंप दिया जायेगा।

जिलाधिकारी को लिखे पत्र में ऑक्सीजन प्लान्ट का निर्माण करने वाली कम्पनी के सक्षम अधिकारियों से वार्ता का भी जिक्र है! प्रवक्ता ने आगे बताया कि हमें केवल जिला प्रशासन की ओर से अनुमति और आवश्यक औपचारिकता पूरी होने का इन्तजार है, जिसके तत्काल बाद निर्माण कार्य शुरू कर दिया जायेगा! इस प्लांट के निर्माण का सम्पूर्ण व्यय-वहन नन्दी सेवा संस्थान के द्वारा किया जायेगा।

गौरतलब है कि प्रयागराज शहर में होम आइसोलेशन में रह रहे संक्रमितों के घर तक भोजन पहुँचाने का काम नन्दी सेवा संस्थान के कार्यकर्त्ता प्रतिदिन कर रहे हैं! पूर्व में भी राम मंदिर समर्पण अभियान में संगठन सवा करोड़ रुपयों का समर्पण कर संस्थान चर्चा में था।

नन्दी सेवा संस्थान के द्वारा कई वर्षों से निर्धन परिवार की बेटियों को उनके विवाह में आर्थिक मदद के अलावा जरूरतमंद परिवारों को तेरहवीं, ईलाज इत्यादि के लिए भी सहायता की जा रही है।

हमारे देश मे कुछ ऐसे ही संस्थान है जो कि देश को इस महामारी से बाहर निकलने के लिए अपना-अपना योगदान दे रहे है।


Share with your friends

2 thoughts on “कोरोना को अब लगाई संस्थान ने फटकार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *