यूपी में जानलेवा बना डेंगू-बुखार, नहीं थम रहा मासूमों की मौत का सिलसिला, इन जिलों का सबसे बुरा हाल

Regional
Share with your friends

उत्तर प्रदेश में डेंगू और वायरल का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। आगरा, फिरोजाबाद, कन्नौज समेत कई जिलों में हालत बद से बदतर होते जा रहे हैं। रोजाना जिलों में डेंगू के नए मरीज मिल रहे हैं। मरीजों का आंकड़ा बढ़ने के साथ ही बच्चों समेत लोगों की मौत का ग्राफ भी तेजी से बढ़ रहा है। वहीं गांव में डेंगू का प्रकोप बढ़ता देख ग्रामीणों में दहशत का माहौल है।

आगरा में वायरल फीवर और डेंगू का कहर जारी है। आगरा में डेंगू के 8 नए मरीज मिले हैं। बाह क्षेत्र में 8 महीने के बच्चे की मौत हुई है। पिनाहट में किशोर की बुखार से मौत हुई है। आगरा में 4 दिन में 8 डेंगू संदिग्ध मरीजों की मौत हो गई। जिले में रोजान डेंगू के आधा दर्जन मरीज मिल रहे हैं। जिले में डेंगू के मरीजों की संख्या 69 हो गई है।

फिरोजाबाद में भी डेंगू के 8 नए मरीज मिले हैं। सीकरी में 156 लोगों की जांच की गई है। मेडिसिन ,बाल रोग विभाग में 23 डेंगू मरीज है। गुमान सिंह पुरा से 22 लोग आगरा रेफर किये गये हैं। जिले में मासूम समेत 4 लोगों की मौत हुई है। फिरोजाबाद के ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण तेजी से फैल रहा है।

कन्नौज में डेंगू के 22 संक्रमित मरीज मिले हैं। जिसके बाद जिले में डेंगू मरीजों की संख्या 194 पहुंच गई है। जिले में कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 90 तक पहुंच गयी है। वहीं वायरल बुखार से पीड़ितों की संख्या 4812 पहुंच गई है।

कानपुर में डेंगू के 6 नए केस मिले हैं। यहां कुरसौली में डेंगू और वायरल कहर ज्यादा देखने को मिल रहा है। आसपास के जिलों में मरीजों की संख्या 3200 पार हो चुकी है। मथुरा, कासगंज और एटा भी डेंगू और वायरल की चपेट में है। कई जगहों पर जिला अस्पताल के बेड फुल हैं।

अस्पतालों का हाल यह है कि डेंगू और तेज बुखार के मरीजों की संख्या बढ़ने से एक-एक बेड पर दो-दो, तीन-तीन मरीज भर्ती किये गये हैं। कईयों को तो बिना इलाज के ही वापस कर दिया जा रहा है। अस्पतालों का बुरा हाल। स्वास्थ्य व्यवस्था राम भरोसे है।


Share with your friends

2 thoughts on “यूपी में जानलेवा बना डेंगू-बुखार, नहीं थम रहा मासूमों की मौत का सिलसिला, इन जिलों का सबसे बुरा हाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *