सोनिया गांधी ने मल्लिकार्जुन खड़गे को सौंपी कांग्रेस की कमान, कहा- आज हुआ राहत का एहसास

Share with your friends

देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी कांग्रेस में गैर नेहरु-गांधी के रुप में मल्लिकार्जुन खड़गे कांग्रेस अध्यक्ष पद की कुर्सी पर विराजमान हो गये हैं. इसके लिए कांग्रेस को पूरे 24 साल इंतजार करना पड़ा. आज सुबह पार्टी के वरिष्ठ नेता और अब कांग्रेस के नए मुखिया मल्लिकार्जुन खड़गे ने कांग्रेस की दिग्गज हस्तियों के साथ राजघाट पहुंचकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने के बाद नेहरू और इंदिरा को भी नमन किया. यहां से वो सीधे पार्टी मुख्यालय पहुंचे, जहां उन्होंने पदभार संभाला. इस मौके पर सोनिया गांधी के साथ राहुल गांधी, प्रियंका गांधी समेत मधुसूदन मिस्त्री भी मौजूद थे.

खड़गे की ताजपोशी के दौरान कांग्रेस पार्टी के कई दिग्गज और वरिष्ठ नेता भी नजर आए. कश्मीर से कन्या कुमारी तक ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की अगुवाई कर रहे वायनाड से सांसद राहुल गांधी कार्यक्रम से समय निकालकर खड़गे की ताजपोशी में शामिल हुए.

इस मौके पर सोनिया गांधी ने कहा- मैं नए पार्टी अध्यक्ष खड़गे जी को बधाई देती हूं. सबसे अधिक संतोष इस बात का है कि जिन्हें अध्यक्ष चुना है, वे एक अनुभवी और धरती से जुड़े हुए नेता हैं. एक साधारण कार्यकर्ता के रूप में काम करते हुए अपनी मेहनत और समर्पण से इस ऊंचाई तक पहुंचे हैं.

मंच के जरिए भी गांधी परिवार ने खड़गे के हाथ में ही नेतृत्व की कमान दिए जाने का संदेश दिया. राहुल गांधी इस दौरान मंच पर खड़गे को बिठाने के बाद सीट पर जाते दिखे. यही नहीं एकदम बीच में मल्लिकार्जुन खड़गे को बिठाया गया. उनके ठीक दाईं ओर सोनिया गांधी थीं तो बाईं ओर पार्टी की चुनाव समिति के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री थे.

कांग्रेस पार्टि के लिए आज एक ऐतिहासिक दिन था. सीता राम येचुरी के 24 बाद कोई गैर गांधी-नेहरु परिवार का सदस्य अध्यक्ष पद की कुर्सी पर विराजमान था. कांग्रेस की दिशा और दशा अब पार्टी के सबसे वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के कांग्रेसी हाथों में होगी. लेकिन क्या ऐसा पूरी तरह से होगा ऐसा तो कुछ नेताओं के बयान से नजर नहीं आ रहा है. खड़गे की ताजपोशी के दौरान पार्टी के ही नेता सलमान खुर्शीद ने नेतृत्व के सवाल पर कहा कि सबसे बड़े नेता तो अब भी राहुल गांधी ही रहेंगे क्योंकि लोग उन पर भरोसा करते हैं.

उन्होंने राहुल गांधी के नेतृत्व क्षमता की तुलना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से करते हुए कहा कि, राहुल ही ऐसे नेता हैं, जो पीएम नरेंद्र मोदी को चुनौती दे सकते हैं. पार्टी ने खुर्शीद ही अकेले ऐसे नेता नहीं है जिन्होंने राहुल गांधी को ही पार्टी का शीर्ष नेता बताया है.

अंदर खाने की बात करें तो कई सारे दूसरे कांग्रेसी भी है जो राहुल के नेतृत्व को पसंद करते हैं. हालांकि, अध्यक्ष पद का चुनाव जीतने पर मल्लिकार्जुन खड़गे ने खुद गांधी परिवार की सलाह पर ही काम करने की बात कही थी.


Share with your friends

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Regional

डॉ. राजेश्वर सिंह ने स्कूली बच्चों का किया मार्गदर्शन, बताई डिजिटल साक्षरता की उपयोगिता, डिजिटल शिक्षा के लिए विद्यालय को दिए ₹5 लाख

Share with your friends

Share with your friendsस्कूली बच्चों के बीच पहुंचे डॉ. राजेश्वर सिंह, बताया विद्यार्थी जीवन का मूल मंत्र जीवन में समय व शिक्षा के अवसरों का सदुपयोग का सर्वाधिक महत्व है :डॉ. राजेश्वर सिंह अपराधियों के विरुद्ध कड़े से कड़े कानून बनने चाहिए :डॉ. राजेश्वर सिंह लाला रामस्वरूप शिक्षा संस्थान इंटर कॉलेज में पहुंचे डॉ. राजेश्वर […]


Share with your friends
Read More
Regional

हर जगह सीएम योगी की धूम, हिमाचल चुनाव के लिए 5 दिनों में की 16 जनसभाएं

Share with your friends

Share with your friendsयूपी के विधानसभा चुनाव में बुलडोजर बाबा के नाम से मशहूर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता अब मैदान के अलावा पहाड़ों में भी देखने को मिल रही है. इसी कारण उन्हें हिमाचल के चुनाव में रिवाज बदलने के लिए मोर्चे पर लगाया गया है. योगी ने पांच दिन में 16 जनसभाएं कर […]


Share with your friends
Read More
Regional

राजीव गांधी हत्याकांड में SC का बड़ा फैसला, सभी दोषियों को रिहा करने का आदेश

Share with your friends

Share with your friendsपूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी हत्याकांड (Rajiv Gandhi assassination) में सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को बड़ा फैसला सुनाया है। इस हत्याकांड में उम्रकैद की सजा काट रहे दोषियों की समय से पहले रिहाई की मांग वाली याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सभी को रिहा करने का आदेश दिया। इससे पहले […]


Share with your friends
Read More