राम मंदिर निर्माण के साथ इन योजनाओं से बदलेगी अयोध्या की तस्वीर

Share with your friends

प्रभु श्रीराम की नगरी अयोध्या में मंदिर निर्माण का काम तेजी से चल रहा है। साथ में लगभग 200 से अधिक बड़ी परियोजनाओं पर भी काम तेजी से चल रहा है, जिसके बाद पूरे अयोध्या की तस्वीर बदल जाएगी। श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण कार्यशाला में रखी शिलाओं की सफाई की जा रही है, जिन्हें राजस्थान से लाया गया है। बड़ी संख्या में मजदूरों को इस काम के लिए लगाया गया है।

इसके अलावा, रेलवे स्टेशन के साथ एक अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा और सरयू पर रिवर क्रूज की योजना भी बनाई जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार लगभग 200 से अधिक बड़ी योजनाओं पर काम चल रहा है, जिसके बाद पूरे अयोध्या की तस्वीर बदल जाएगी। अधिकारियों ने कहा कि मंदिर के अंदर रामलला की मूर्ति की स्थापना में एक साल से थोड़ा अधिक समय बाकी है। इस बीच, अयोध्या में अधिकांश मेगा इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स शुरू किए गए हैं।

मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने इन प्रोजेक्ट्स की कार्यप्रगति की समीक्षा की और कुछ स्थानों का निरीक्षण किया। उन्होंने संभागीय आयुक्त, जिला मजिस्ट्रेट और नगर आयुक्त को नियमित रूप से मिलने और प्रोजेक्ट्स की प्रगति के संबंध में निर्देश दिए। यूपी सरकार के मुताबिक अयोध्या में फिलहाल 252 प्रोजेक्ट चल रहे हैं।

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्रा ने कहा कि उम्मीद है कि दिसंबर 2023 तक मंदिर में रामलला की स्थापना कर दी जाएगी। मंदिर के भूतल के उस समय तक पूरा होने की उम्मीद है। भक्तों की संख्या पहले ही बढ़ गई है।

वर्तमान में, सामान्य दिन में औसतन लगभग 50,000 भक्त अस्थायी राम मंदिर में दर्शन के लिए आते हैं। उन्होंने कहा, “मंदिर से संबंधित पूरे काम का लगभग 40 प्रतिशत पूरा हो चुका है।” राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए केंद्र सरकार द्वारा ट्रस्ट की स्थापना की गई थी।

श्री राम जन्मभूमि पथ (5.77 किमी) सुग्रीव किला के जरिए राम मंदिर को नया घाट से जोड़ने के लिए; भक्ति पथ (850 मीटर) हनुमान गढ़ी के रास्ते मंदिर को मुख्य सड़क से जोड़ने के लिए; सआदतगंज को रामजन्मभूमि से जोड़ने के लिए राम पथ (12.9 किमी)। भक्ति पथ के लिए भूमि अधिग्रहण और ढांचों को गिराने का काम चल रहा है। इसके अलावा विभिन्न स्थानों पर पांच मल्टी लेवल पार्किंग स्थल तैयार किए जा रहे हैं।

अयोध्या को देश-दुनिया से कनेक्ट करने पर खास जोर दिया जा रहा है। इस क्रम में अयोध्या में आधुनिक रेलवे स्टेशन जल्द बनकर तैयार हो जाएगा। साथ ही मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम इंटरनेशनल एयरपोर्ट का निर्माण कार्य भी तेजी से चल रही है। लखनऊ-गोरखपुर राजमार्ग पर ट्रैफिक को देखते हुए, एक 65 किमी आउटर रिंग रोड भी भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा ग्रीनफील्ड परियोजना के रूप में बनाया जाएगा।


Share with your friends

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Regional

किसानों की निष्ठा, पुरुषार्थ एवं परिश्रम के परिणामस्वरुप आज देश कृषि क्षेत्र में आत्मनिर्भर है- डॉ. राजेश्वर सिंह

Share with your friends

Share with your friendsमोदी – योगी सरकार किसानों के हितों की रक्षा के लिए सदैव तत्पर है – डॉ. राजेश्वर सिंह सरोजनीनगर को मिली नई मंडियों, हॉटपैड, गौशाला और प्रधान मंडी स्थल को स्वीकृति, किसानों को होगा लाभ – डॉ. राजेश्वर सिंह भाकियू लोकतांत्रिक द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पहुँच सरोजनीनगर विधायक ने किया किसानों से […]


Share with your friends
Read More
Regional

आतंकवाद का पनाहगार है पाकिस्तान, भारत को ना दें ज्ञान : डॉ. राजेश्वर सिंह

Share with your friends

Share with your friendsडॉ. राजेश्वर सिंह ने बिलावल भुट्टो को लिया आड़े हाथ, बताया पाकिस्तान को आतंकवाद का पनाहगार डॉ. राजेश्वर सिंह ने बिलावल भुट्टो को दिया करारा जवाब, कहा- विभिन्न वैश्विक मंचों पर भारत की है मजबूत छवि इतिहास से सीख ले बिलावल भुट्टो, आतंकवाद ने ही ली थी उनकी मां की जान : […]


Share with your friends
Read More
Regional

डॉ. राजेश्वर सिंह ने स्कूली बच्चों का किया मार्गदर्शन, बताई डिजिटल साक्षरता की उपयोगिता, डिजिटल शिक्षा के लिए विद्यालय को दिए ₹5 लाख

Share with your friends

Share with your friendsस्कूली बच्चों के बीच पहुंचे डॉ. राजेश्वर सिंह, बताया विद्यार्थी जीवन का मूल मंत्र जीवन में समय व शिक्षा के अवसरों का सदुपयोग का सर्वाधिक महत्व है :डॉ. राजेश्वर सिंह अपराधियों के विरुद्ध कड़े से कड़े कानून बनने चाहिए :डॉ. राजेश्वर सिंह लाला रामस्वरूप शिक्षा संस्थान इंटर कॉलेज में पहुंचे डॉ. राजेश्वर […]


Share with your friends
Read More